पहली बार चुदवाना घर से शुरू हुआ

जब उसका लंड अच्छे से टाइट हो गया तो मैंने उसको अपने मुंह में ले के चूसने लगी | उसे बहुत अच्छा लग रहा था मेरा ऐसा करना | मैंने उसका लंड 20 मिनट तक चूसा था फिर मैं नंगी हो गयी | और उसे कहा कि तू मेरे दूध पी जैसे तू मम्मी के दूध पीता है |

मौसी की चुत से पानी की धार

मैं उनके होठों को अपने होठों से चूम रहा था और अपना हाथ उनके शरीर पर इधर से उधर घुमा रहा था | मामी पुरे जोश में मेरा साथ देती हुई अपने हाथों से मेरे बालों को सहला रही थीं | अब मैंने उनकी गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया |

बहन को चोदने की कहानी

मेरी बहन का फिगर मस्त है, उसके बूब्स बड़े और उसकी गांड भी उठी हुई और सेक्सी है | पता नही उस दिन क्या हुआ, मेरा मन डोल गया अपनी बहन के सेक्सी बदन को देखकर | मैंने उसे जगाया नही और ऐसे ही देखता रहा |

दोनों दोस्तो ने अपनी प्यास उस कॉल गर्ल पे मिटाई

मैंने जब उसे घोड़ी बना कर चोदना शुरू किया तो विनोद का लंड उसने अपने मुंह में ले लिया था, मैं उसे धक्के दे रहा था मुझे उसकी चूतडो को पकड़कर उसे चोदने में बड़ा मजा आ रहा था। उसकी गोल और बड़ी चूतडो का रंग मैंने लाल कर दिया था जैसे ही मेरा वीर्य गिरने वाला था तो मैंने अपने लंड को बाहर निकाला

चोद चोद गांड पर वीर्य गिराते जाता

मोनीका के बदन के मजे लिए जब उसकी चूत से पानी बाहर छूटने लगा तो मैं भी झडने वाला था मैंने अपने वीर्य को मोनीका की गोरी गांड पर गिरा दिया। हम दोनों ने अपने कपड़े पहन लिए हम लोग काफी देर तक बात करते रहे

शराफत की देवी मेरी बहन- 9

बहन को चोदने से मेरा लन्ड अपना पानी नहीं छोड़ रहा था मैं, और बहन पूरा गर्म हो गई थी अपनी चूतड़ को जोर जोर झटके दे रही थी और कह रही थी चोदो सैया अपनी बहन को अपने बच्चे की मां बना दो आज इस वंश में एक नया इतिहास रच दो

सब्जेक्ट के साथ साथ सेक्स का पाठ भी पढ़ाया

मैंने जब अपने लंड को उसकी योनि पर सटाया तो उसने मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ लिया और कहने लगी मैं आपके लंड को खुद ही डालूंगी।

बिना लंड के चुदाई की प्यासी चुत

मैं अपने अंदर के ज्वालामुखी को ना रोक सका और वह उस वक्त फट गया। मैंने उसके होठों को किस किया और जब उसके कपड़े उतारे तो उसके स्तनों को मैंने काफी देर तक चूसा उसके स्तन बड़े ही लाजवाब थे मैंने जैसे ही अपने लंड को उसकी योनि पर सटाते हुए अंदर की तरफ धकेला तो वह चिल्ला उठी।

बीवी की बुर देख लंड उठने लगता

मेरा लंड प्यारी बीवी की चुत में जोर से अन्दर बाहर हो रहा था. मेरा वीर्य छूटने का वक्त आ गया था. मैंने एक तेज प्रहार किया और अपना लंड मेरी प्यारी बीवी की चुत में जड़ तक घुसा दिया.

मौसी की चुदाई कर मैंने लंड चुसवाया

मैं मौसी की चूत को जीभ और होंठों से चूसता रहा और वो आह…उमहँ… आह… आह… ऊह… की आवाज़ निकलती रही. कुछ देर में मौसी का बदन अकड़ने लगा और वो अपने दोनों हाथों से मेरे सिर को अपने चूत पर कस के दबाने लगी.